दोस्तों!कोराना वायरस ने वर्तमान समय में एक वैश्विक महामारी का रूप ले लिया है। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के कारण 34 हज़ार (34,000) मौतें हो चुकी हैं जबकि 18 लाख (18,0000) से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं।कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्थाओं को बर्बाद कर दिया है और साथ में एक-दूसरे देशों में आवागमन को भी बिल्कुल बंद कर दिया है। कोरोना वायरस से होने वाली बीमारी को covid-19 नाम दिया गया है क्योंकि इस वायरस की 2019 में शुरू हुई थी।

कोरोना वायरस सबसे पहले चीन के वुहान शहर में फैला था। इसके बाद वहां  घूमने आए पर्यटकों के द्वारा अन्य देशों में संक्रमण के जरिए फैल गया। कोरोना वायरस से भारत भी अछूता नहीं रह गया है। भारत में भी अब तक 15 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं, जबकि 1000 लोग से ज्यादा संक्रमित हो चुके हैं। कोरोना वायरस से लोगों में भय के माहौल के कारण कोरोना वायरस से संबंधित अनेकों अफ़वाह फैलाई जा रही है, लेकिन आज हम आपको कोरोना वायरस  के बारे में संपूर्ण और सटीक जानकारी प्रदान करेंगे !

कोरोना वायरस/ Covid-19 के बारे में संपूर्ण जानकारी !

कोरोना वायरस क्या है ? What is Corona-virus

कोरोना  वायरस एक विषाणुओ का समूह होता है। जो संक्रमण के कारण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। कोरोना वायरस यानी covid-19 होने का एकमात्र कारण संक्रमण ही है। अन्य किसी भी तरीके से व्यक्ति covid-19 बीमारी से पीड़ित नहीं हो सकता है। कोरोना वायरस संक्रमित एक व्यक्ति 10 दिनों में 2 लाख से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर सकता है। Sikkim Online Lottery India 2020-21

कोरोना वायरस के बचाव तरीके ; Corona virus rescue methods;

  • जब तक जरूरत न हो घर से बाहर ना निकले.
  • घर से बाहर निकलते वक्त मुंह पर मास्क या नैपकिन जरूर रखें.
  • कोरोना वायरस का प्रभाव 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों पर ज्यादा होता है, इसलिए बुजुर्गों को घर में ही रखने की सलाह दी जाती हैं.
  • अन्य व्यक्ति से हाथ ना मिलाए, नमस्ते का इस्तेमाल करें.
  • दिन में प्रति घंटे अपने हाथ साबुन, हैंडवॉश या सेनीटाइजर से धोएं.
  • छींकते या ख़ासी के समय मुंह पर रूमाल रखें उसके बाद अपने हाथ धोएं.
  • अन्य व्यक्तियों से 1 मीटर दूर रहें.
  • डायबिटीज़ पेशेंट और हार्ट पेशेंट ज्यादा सावधानी बरतें.

कोरोना वायरस के लक्षण ; Symptoms of corona virus;

  • सर्दी, जुकाम और ख़ासी होना.
  • फेफड़ों में दर्द होना.
  • सांस लेने में तकलीफ होना.
  •  नाक बंद, डायरियाँ और शरीर में दर्द होना.

इस प्रकार के लक्षण होने पर जल्दी से जल्दी डॉक्टर से संपर्क करें!Contact the doctor as soon as possible if you have such symptoms.

दोस्तों covid-19 से पीड़ित होने पर रोगी की अचानक मृत्यु नहीं होती है, उसे 14 दिन तक आइसोलेशन में रखकर बहुत सी दवाओं के जरिए ठीक किया जा सकता हैं। covid-19 की दवा किसी भी लैब या देश के द्वारा तैयार नहीं की गई है। इसलिए कोरोना वायरस से संबंधित किसी अफ़वाह पर ज्यादा ध्यान ना दें और कोरोना वायरस से बचाव के लिए हमारे बताए गए तरीकों का पालन करें!